Home Relationship यहाँ पढ़े एसटीडी बिमारी से बचने के अचूक उपाय

यहाँ पढ़े एसटीडी बिमारी से बचने के अचूक उपाय

892
SHARE

एसटीडी या फिर सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिसीज़ को लेकर लोगो में कई प्रकार के मिथ और भ्रांतियां होती हैं जिसके चलते लोग काफी परेशान होते हैं ऐसी बिमारिया संक्रमण के कारण होती हैं, यह संक्रमण लोगो में सेक्स करते वक़्त एक दूसरे में ट्रांसमिट होता हैं. जिसे एसटीडी रोग कहा जाता हैं. संक्रमित बिमारियां आजकल वास्तविकता में सामान्य हो चुकी है. ये बीमारियाँ किसी भी उम्र के व्यक्ति में हो सकती हैं, लेकिन सेक्सुयली एक्टिव लोगों में इनके होने का खतरा ज़्यादा होता हैं.

अगर आपको इस प्रकार की कोई बिमारी हैं और आप इसको लेकर शर्मिंदा हैं और आप इसका इलाज कराने नहीं जा पा रहे हैं तो यह गलत हैं, शर्मिंदगी से ज्यादा यह एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या है. यदि सही तरह से इलाज नहीं किया जाये तो बांझपन जैसी गंभीर समस्या के साथ ही मौत भी हो सकती है. इस प्रकार यह हम आपको बताएंगे के किस प्रकार आप इस बिमारी से बच सकते हैं.

एसटीडी से बचने के लिए उपाय:

सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिसीज़ का सबसे बड़ा खतरा यह है कि इसके लक्षण जल्दी सामने नहीं आते हैं कई बार तो रोगी को सालों पता नहीं चलता के वो एसटीडी से पीड़ित हैं. सेक्सुअल ट्रांसमिटेड डिसीज़ को रोकने के कुछ तरीके हैं.

छोटी उम्र में सेक्स करने से बचे:
अगर आप एसटीडी बिमारी से बचना चाहते हैं तो आपको छोटी उम्र में सेक्स नहीं करना चाहिए, छोटी उम्र में सेक्स करना एसटीडी होने का मुख्या कारण हो सकती हैं.

a_wife_hugging_husband_pnl7xd

सेक्स पार्टनर एक ही हो:
ज़्याद लोगों से सेक्स करने से बचे जो लोग सेक्सुअली बहुत ज़्यादा एक्टिव होते हैं और कई लोगो के साथ सम्बन्ध बनाते हैं उनमे एसटीडी होने का खतरा ज़्यादा होता हैं.

रखे अपनी सफाई का धयान:
साफ़ सफाई हर प्रकार के रोग को दूर भगा देती हैं इस प्रकार सेक्स करने के बाद अपने गुप्तांगो की अच्छे से सफाई करना भी ज़रूरी हैं अपनी पर्सनल गारमेंट्स और टॉवल किसी से शेयर ना करे ऐसा करने से एसटीडी बिमारी के होने का खतरा बढ़ जाता हैं.

अजनबियों से रहे सावधान:
अगर आप युवा हैं या आपकी उम्र कम हैं तो आपको अजनबियों से सम्बंध्झ नहीं बनानें चाहिए अगर आप ऐसा करते हो तो आप एसटीडी के शिकार आसानी से हो सकते हैं. संक्रमण से बचने के लिए एक ही विश्वसनीय और असंक्रमित पार्टनर रखें, यह दोनों पार्टनर्स पर लागू होता है. इससे वो सेफ रह पाएंगे

जाने अपने पार्टनर के बारे में:
अगर आप किसी रिश्ते में बंधे हैं तो उसके बारे में सारी बाते जान लें लेकिन इन बातो का पता आप धीमे-धीमे करे अगर आप एक बार में ही सब पूछ लेंगे तो हो सकता हैं आपका पार्टनर इससे हर्ट हो. इस तरह की बातो का पता करना कठिन है इसीलिए आपस में इस टॉपिक पर बातचीत जरूर करे.

लें टीकाकरण का सहारा:
एसटीडी बिंमारी से बचने के लिए इसके टीके भी बाज़ारो में उपलब्ध हैं इससे बचने के लिए आप इसका टीकाकरण करा सकते हैं.

सेफ रिलेशन बनाये:
सेफ रिलेशन बनाने के लिए ज़रूरी हैं की आप प्रीकॉशन्स का इस्तेमाल करे सेक्स करते वक़्त कंडोम का इस्तेमाल आपको इस बिमारी से बचा सकता हैं. इसका उपयोग ज़रूर करे.

अल्कोहल का सेवन ना करे:
अल्कोहल का सेवन ना करे ना ज़्यादा धूम्रपान करे क्योंकि शराब ज़्यादा पीने से इसका खतरा बढ़ जाता हैं, इसीलिए अगर आप इसका सेवन कर रहे तो इससे बचे.

अपने पार्टनर से करे बात:
सेक्सुअल रिलेशन बनाने से पहले अपने पार्टनर से बातचीत करे उन्हें बताये के सेफ सम्बन्ध कैसे बनाया जाता हैं और इसमें क्या-क्या प्रीकॉशन्स लेने चाहिए इस प्रकार आपका रिश्ता भी खराब नहीं होगा और आप इस बिमारी से सेफ रहेंगे.

how can you be safe from sexual transmitted disease, here we are giving you some tips by that you will be safe forever, never forget this tips

web-title: how to get safe from sexual transmitted disease

keywords: sexual transmitted disease, precautions, tips, cure