जाने बॉडीबिल्डिंग और सेक्स के बीच है गहरा सम्बन्ध

2341
relation between sex and bodybuilding
Loading...

आमतौर हम यही सोचते हैं कि किसी भी प्रकार की मैथुन क्रिया हमारे शरीर को कमजोर करता है जिसके कारण पुरुषो को कमजोरी का सामना करना पड़ता है जबकि इसका कोई आधार नही देखने को मिलता है और लोग इस बात को लेकर भ्रमित रहते हैं.

जबकि प्रकृति के बनाए इस शारीरिक सुख वा दैहिक मैथुन क्रिया को दिमाग पर ना लेकर इसे एक साधारण क्रिया माना जाए तो बेहतर है जैसे शरीर की बाकी प्राकृतिक क्रियाओं से शरीर पर किसी तरह का फर्क नही पड़ता है.

उसी प्रकार मैथुन क्रिया से कमजोरी होने की बात काफी हद तक गलत है तो क्या कमज़ोर होने की बात सही हैं या फिर इसमें कुछ सच्चाई हैं जरा सोचे अगर ये बात सही होती तो शादी के बाद महिला और पुरूष बीमार ही रहते और कमज़ोर होते जाते.

एक रिसर्च के मुताबिक प्रकृतिक मैथुन करने से शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन्स का विस्‍तार होता है. टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन्स शारीरिक, मानसिक वा जननेंद्रियों के विकास के लिए जरुरी होता है, जो मानसिक स्तिथि सुधरता हैं.

मैथुन एक शारीरक क्रिया ना होकर मानसिक परिपक्वता का अभिन्न अंग है. अगर ये कहा जाये शरीर में नंबर वन सेक्स ऑर्गन क्या है तो दिमाग पहले नंबर पर आता है जो कई प्रकार की इमेजिनेशन बुनता हैं जिससे यह प्रक्रिया पूरी हो पाती हैं आनंदमय व तनावमुक्‍त मैथुन के बाद शरीर में हॉर्मोन्स का विस्तार बढ़ जाता है और इससे मांसपेशियो और हड्डियो का विकास होता है और मज़बूत बनती हैं.

Advertisement
Loading...

अब अगर बॉडीबिल्डिंग और अन्‍य ताकतवर खेल की बात करें तो यह हमारी मांसपेशियों की ताकत पर निर्भर करता है शारीरक क्षमता वा प्रदर्शन मांसपेशियों के साथ-साथ मानसिक तालमेल का परिणाम होते है.

मानसिक एकाग्रता ही बढ़िया न्यूरो मस्कुलर संतुलन के लिए जरूरी है। कई बार जरूरत से ज्‍यादा मैथुन जैसी क्रियाओ के करने से आत्म गिलानी की स्थिति उत्पन हो जाती है जिससे हम मानसिक तौर पर कमजोरी महसूस करते है जिसके फलसवरूप हम अपना प्रदर्शन अच्छा नही कर पाते है जिससे हमारी सेक्स लाइफ पर असर पड़ता हैं जबकि ये सब शरीरक ना हो कर मानसिक है.

कई रिसर्च में यह बात सामने आ चुकी है कि सेक्स व्यायाम और शारीरक प्रदर्शन से पहले कोई उल्टा असर नहीं डालता, और ये पाया गया की प्रदर्शन पहले किया गए मैथुन से बढ़िया आता है.

लेकिन यहां एक बात ध्‍यान रखने वाली है कि अगर हम मैथुन को जरुरत से ज्‍यादा करते हैं तो आदत के गुलाम हो सकते है जिससे मानसिक अशांति और मैथुन के प्रति हीन भावना आपको कमजोर बना सकती है इसीलिए इसके लती ना बने और खुद पर कण्ट्रोल करे.

If you want to know that what is the relation between sex and bodybuilding read our the whole article

web-title: relation between sex and bodybuilding

keywords: relation, bodybuilding, sex, tips, facts

Advertisement
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here